रतलाम

14 जून से अगले 45 दिन रहना सावधान, क्योकि 9 में से 7 ग्रह कर रहे ये काम

रतलाम। आमतोर पर व्यक्ति की कुंडली में ग्रह की डिग्री से ही उस ग्रह की ताकत या कमजोरी का पता चलता है। अगर शुभग्रह बलवान है या बेहतर डिग्री में है तो हर वक्त शुभ फल मिलते है, लेकिन अगर कमजोर ग्रह कम डिग्री का है तो इसको शुभ माना जाता है, क्योकि आपका दुश्मन जितना कमजोर होगा उतना बेहतर माना जाता है। इस बार 14 जून को भारतीय ज्योतिष में महत्व रखने वाले 9 में से 7 ग्रह 24 डिग्री पर रहेंगे। इसका क्या परिणाम निकलेगा, इसको लेकर ज्योतिषियों के बीच अब चर्चा शुरू हो गई है। रतलाम के प्रसिद्ध ज्योतिषी अभिषेक जोशी के अनुसार ये बेहतर नहीं है व कुछ न कुछ खुब खराब होने का संकेत है।

पहले जाने डिग्री के बारे में
ज्योतिषी अभिषेक के अनुसार जीरो से लेकर तीस डिग्री तक हर ग्रह एक राशि में रहता है। जीरो से दस तक बाल अवस्था में ग्यारह से बीस तक कुमार अवस्था में व 21 से 30 के बीच वृद्ध अवस्था में माना गया है। शनि, राहु, केतु, शुक्र को छोड़कर शेष ग्रह की वृद्ध अवस्था शुभ स्थिति में कमजोर हो तो बेहतर नहंी मानी गई है। इसलिए जो ग्रह 24 डिग्री के 14 जून को हो रहे है, वो अब चर्चा में आ गए है।

ये ग्रह होंगे 24 डिग्री के

सबसे पहले बात मंगल की। देव सेनापति का स्थान रखने वाले मंगल देव को उग्र माना गया है। भवन व भूमि के स्वामी मंगल इन दिनों मिथुन राशि में राहु के साथ है। ज्योतिषी अभिषेक के अनुसार 24.43 डिग्री के मंगल राहु के साथ मिलकर भूमि में कंपन करवाएंगे। ये कंपन काफी असर डालने वाला होगा। इसके अलावा देव गुरु बृहस्पती 24.56 डिग्री के 14 जून को रहेंगे। ये ग्रह इन दिनों मंगल की राशि वृश्चिक में है। वृश्चिक मंगल की राशि फिर से ये सिद्ध करती है कि भूमि का कंपन या भूकंप होगा। इनके अलावा आमजन का प्रतीक शनि 24.54 डिग्री के रहेंगे। इसका मतलब है कि ये भूकंप आमजन पर असर डालने वाला होगा।

प्रकृति में बडे़ परिवर्तन का संकेत

इनके अलावा तीन अन्य ग्रह क्रमश: नेपच्यून 24.37 डिग्री, राहु व केतु 24.49 डिग्री के रहेंगे। अन्य ज्योतिषी भी सहमत भूकंप की बात सेरतलाम के अन्य ज्योतिषी वीरेंद्र रावल व एनके आनंद के अनुसार भूकंप तो आएगा लेकिन इसके साथ-साथ तेज बारिश बाढ़ भी लाएगी। इसके अलावा जून माह के अंत व जुलाई की शुरुआत में आतंक की बड़ी घटना होगी। सरकार को अभी से सतर्कता रखना होगी। ज्योतिषी रावल के अनुसार 14 जून से अगले 45 दिन का समय प्रकृति में बडे़ परिवर्तन का संकेत दे रहा है। इसके लिए हर किसी को स्वयं प्रकृति को समझकर पर्यावरण से जुडऩा होगा। जो पर्यावरण से जुडेग़ा उसको कोई नुकसान नहीं होगा।

इस तरह होगा इसका असर

ज्योतिषी अभिषेक के अनुसार छोटी छोटी बातों पे गुस्सा,चिड़ाचिड़ापन,झगडा और परेशानी नुकसान।विशेषकर उन लोगो के लिए जिनकी कुंडली के लग्न और राशि मे सूर्य और चंद्रमा 20 से 27 डिग्री पे है।
यात्रा स्थगित करे 10-12 दिनों के लिए चाहे रेल की हो या हवाई। मिथुन, कर्क, वृश्चिक,धनु और मीन लग्न राशि वाले विशेष सावधानी रखें। इष्टदेव और कुलदेवी का निरन्तर ध्यान करे। अपनी कुंडली के अनुसार कुछ विशेष उपाय और सावधनी रख के समस्या से बचे।

About the author

Sachin Mali

Add Comment

Click here to post a comment