रतलाम

भाजपा नेता पुत्र ने युवक को दी जान से मारने की धमकी

रतलाम। भाजपा नेता मधु पटेल के एक और पुत्र पवन पटेल निवासी पटेल कॉलोनी सहित दो अन्य पर पुलिस ने एक युवक को धमकाने और मारपीट का प्रकरण दर्ज किया है। आरोपी ने अपने अन्य साथियों की मदद से फरियादी के साथ मारपीट की। पुलिस थाना दीनदयालनगर के सहायक उपनिरीक्षक ने जांच में आरोपी द्वारा मारपीट, धमकाने सहित अन्य का मामला होने से प्रकरण पंजीबद्ध किया है।

पुलिस थाना दीनदयालनगर के अनुसार घटना 2 जून 2019 की है। इसके करीब चार दिन पहले फरियादी धीरजशाहनगर निवासी नकूल पिता ब्रजमोहन माहेश्वरी अपनी बहन सोनाली को दीनदयालनगर थाने छोडऩे गया था। इसी बात को लेकर अगले दिन उसके मोबाइल फोन पर पवन पिता मधु पटेल ने मोबाइल फोन लगाकर धमकाया कि सोनाली को थाने क्यों छोडऩे गया। साथ ही जान से मारने की धमकी भी दी। 2 जून को जब वह धीरजशाहनगर में आशिक उर्फ ललिता और माया के घर के सामने से निकल रहा था। इसी दौरान माया और ललिता ने उससे सोनाली को थाने छोडऩे को लेकर विवाद करना शुरू कर दिया। विवाद के समय ही ललिता ने उस पर ब्लेड से वार कर दिया। वह घायल हो गया। तभी उधर से गुजर रहे करण पिता बहादुरसिंह निवासी ईश्वरनगर और पीयू उर्फ मुस्कान खान ने बीच-बचाव करके मुझे बचाया। इस मामले की जांच सहायक उपनिरीक्षक को सौंपी गई तो उन्होंने जांच में यह सही पाया और इस पर धारा 323, 324, 506, 34 में प्रकरण दर्ज किया है।

ब्याजखोर के खिलाफ पुलिस प्रकरण दर्ज
रतलाम। भाटों का वास निवासी एक युवक ने दूसरे युवक से ब्याज पर ३० हजार रुपए लिए तो उसके बदले वह ७२ हजार रुपए दे चुका है फिर भी मूल राशि के लिए अब भी उधारी देने वाला युवक दबाव बनाकर ब्याजखोरी करने पर उतारू है। फरियादी की रिपोर्ट पर दीनदयालनगर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धौंसदपट करने और जान से मारने की धमकी देने का प्रकरण दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार ३८ भाटों का वास निवासी शुभम पिता कैलाश चौहान ने पुलिस थाना माणकचौक को बताया कि उसने जून २०१७ में गोशाला रोड निवासी प्रकाश उर्फ लक्की पिता बाबूलाल से ३० हजार रुपए १० फीसदी ब्याज पर लिए थे। इसके बाद वह अब तक ८२ हजार रुपए लौटा चुका है किंतु आरोपी का कहना है कि यह राशि केवल ब्याज की है। मूल राशि अभी भी देना बाकी है। पिछले दिनों ही वह धानमंडी में पान की दुकान पर खड़ा था कि इसी दौरान आरोपी प्रकाश अपने दोस्त इम्तियाज के साथ आया और राशि मांगने लगा। मैंने कहा इतनी राशि दे चुका हूं तो वह धमकाने लगा और इसी दौरान दोनों ने मारपीट शुरू कर दी। मेरे दोस्त नीरज साल्वी और अंकुश माहेश्वरी ने बीच-बचाव करके मुझे बचाया। जाते समय प्रकाश और इम्तियाज जान से मारने की धौंस भी दे गए। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा ३२३, ५०६, ३४ में प्रकरण दर्ज किया है।

About the author

Sachin Mali

Add Comment

Click here to post a comment